काला पानी : आज़ादी का अविस्मरणीय स्मारक!

“सेल्यूलर जेल” अंडमान-निकोबार द्वीप समूह की राजधानी, पोर्ट ब्लेयर, भारत मे स्थित एक स्मारक है जिसे हर भारतीय को एक बार अवश्य जाना चाहिए। ‘काला पानी’ के नाम से कुख्यात ये जेल अंग्रेजी़ सरकार द्वारा भारत के स्वतंत्रता सैनानियों पर किये गए अत्याचारों की मूक गवाह है।

भारत से हजा़रों किलोमीटर दूर, सागर के मध्य स्थित पोर्ट ब्लेयर ख़ूबसूरत जंगलों, कोरल, समुद्री तटों एवं रोमांच से भर देने वाले वॉटर स्पोर्ट्स के लिए मशहूर है। अगर आप अंडमान में यात्रा का विचार बनाते हैं, तो यहांँ जाकर आप फुर्सत के पलों के लिए एक से बढ़कर एक सुविधाओं का मजा़ उठा सकते हैं, जिस्से आपकी छुट्टियाँ यादगार बन जाएँगी। अपने ख़ूबसूरत सूर्यास्त, सफेद बालू और फिरोजी़-नीले रंग के पानी के लिए मशहूर द्वीप समूह पर कई वॉटर स्पोर्ट्स सेंटर हैं जहांँ से स्नोर्केलिंग और स्कूबा डाइविंग की जा सकती है। अंडमान-निकोबार के सर्वोत्तम स्थलों में से एक है राधानगर जिसे एशिया के सर्वोत्तम बीच की उपाधि मिली है। शांत, मनोरम एवं नैसर्गिक सौंदर्य से भरपूर यदि कोई पर्यटक स्थल है, जहाँ आकर आप स्वयं से परिचित हो सकें, तो निश्चित ही वो यहीं है।

kalapani cellular jail

यूँ तो यह द्वीप समूह अपने आप में अनेकों अनूठी विशेषताओं को समेटे हुए है, लेकिन स्वतंत्रता कितनी बेशक़ीमती होती है इसका अनुमान आपको सेल्यूलर जेल के कण कण में महसूस होगा। इस स्थान में आप एक ऐसी ख़ामोशी से रूबरू होंगे जो आपके मन को छू लेगी। आज़ादी की जंग की जितनी भी गाथाएँ आपने सुनी हैं, ये उन सब से कहीं ज़्यादा गहरी है। इसीलिए आवश्यक है कि प्रत्येक भारतीय इस स्थल पर अपनी श्रधांँजलि दे, उन वीरों को, जिनकी शहादत की बुनियाद पर आज स्वतंत्र भारत विश्व के एक ताक़तवर एवं प्रगतिशील राष्ट्र के रूप में विकास की ओर अग्रसर है।

GREG RAKOZY JOMESH | BHARTRIHARI PANDIYA | SANGEETA

Leave a Reply